भाजपा ने अब तक सात टिकट काटे

प्रदेश की दूसरी सूची में पूर्व मंत्री, वर्तमान सांसद और एक नया चेहरा, 11 नाम शेष

भोपाल के लिए चर्चा में अब तोमर का भी नाम आया

भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति ने शुक्रवार को प्रदेश के लिए तीन और प्रत्याशियों की घोषणा कर दी। इसमें दो वर्तमान सांसद बालाघाट के बोध सिंह भगत और खरगोन के सुभाष पटेल का टिकट काट दिया गया। इनकी जगह बालाघाट से पूर्व मंत्री ढाल सिंह बिसेन, खरगोन से नए चेहरे गजेंद्र पटेल और राजगढ़ से वर्तमान सांसद रोडमल नागर को टिकट दिया गया है।

भाजपा ने पहली सूची पांच सांसदों के टिकट काटे थे यानी पार्टी अब तक सात वर्तमान सांसदों के टिकट काट चुकी है। पार्टी सूत्रों की मानें तो बालाघाट से पहले वरिष्ठ नेता व विधायक गौरीशंकर बिसेन की बेटी मौसमी का नाम था, लेकिन उनकी दावेदारी खारिज होने के बाद ढाल सिंह पर भरोसा जताया गया। इसमें गौरीशंकर की भी सहमति ली गई। वहीं रोडमल को संघ का करीबी होने का फायदा मिला। भाजपा अब तक 18 प्रत्याशी घोषित कर चुकी है। जबकि कांग्रेस नौ। भाजपा के शेष 11 नामों की घोषणा दो-तीन दिन में हो सकती है।

तो मुरैना में वीडी शर्मा हो सकते हैं प्रत्याशी : प्रत्याशियों की दूसरी सूची के बाद भी भोपाल-इंदौर और ग्वालियर समेत 11 सीटों पर अभी पेंच फंसा हुआ है। सूत्रों के मुताबिक भोपाल सीट को लेकर जारी मशक्कत के बीच केंद्रीय मंत्री और मुरैना से भाजपा के प्रत्याशी नरेंद्र सिंह तोमर का नाम केंद्रीय नेतृत्व के सामने रखा गया है। यदि तोमर को भोपाल से उतारा जाता है तो फिर मुरैना सीट पर प्रदेश महामंत्री विष्णु दत्त शर्मा को भेजा जा सकता है। जबकि भोपाल सीट से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, महापौर आलोक शर्मा और विष्णुदत्त का नाम पहले से ही पैनल में है।

अंतिम निर्णय राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर छोड़ा गया है। शुक्रवार को केंद्रीय संगठन ने प्रदेश के नेताओं से भोपाल समेत कुछ सीटों पर फीडबैक लिया। इसके बाद तीन सीटों की घोषणा की। इंदौर में सांसद व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन का टिकट तकरीबन कट चुका है। वहां भाजपा प्रदेश में सत्तारुढ़ दल कांग्रेस के उम्मीदवार का इंतजार कर रही है, तब तक पार्टी कोशिश में है कि संभावित उम्मीदवार को लेकर सुमित्रा महाजन की सहमति ले ली जाए।

अब तक इन सीटों पर दोनों दलों के प्रत्याशी तय

सीट                   कांग्रेस           भाजपा

शहडोल        प्रमिला सिंह       हिमाद्री सिंह

टीकमगढ़       किरण अहिरवार   वीरेंद्र कुमार खटीक

होशंगाबाद       शैलेंद्र दीवान   राव उदय प्रताप सिंह

मंदसौर        मीनाक्षी नटराजन  सुधीर गुप्ता

बैतूल          रामू टेकाम      डीडी उइके

बालाघाट       मधु भगत        ढाल सिंह बिसेन

शराब माफिया की धमकियों से नाराज धरमपुरी से कांग्रेस विधायक पांचीलाल मेड़ा ने शुक्रवार को मीडिया के सामने इस्तीफे की प्रति दिखाकर हड़कंप मचा दिया। इसमें लिखा था कि कांग्रेस सरकार होने के बाद भी मेरी सुनवाई नहीं हो रही है। मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री बाला बच्चन और मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर को डैमेज कंट्रोल में जुटाया। दोनों मंत्रियों ने मेड़ा से बात की और शाम को सीएम से मिलवाया। फिर मेड़ा मान गए। दरअसल मेड़ा का आरोप था कि धामनोद में स्कूल व धार्मिक स्थल के पास शराब दुकानें हैं। विरोध करने पर पुलिस उन्हें ही बंदी बना रही है। उन्होंने सीएम से धार कलेक्टर और एसपी की शिकायत की थी। हालांकि कलेक्टर धार एडीओ आरएस राय का ट्रांसफर कर दिया। वहंी चुनाव आयोग ने भी मामले को संज्ञान में लिया है और कलेक्टर व एसपी हटाए जा सकते हैं।

कमलनाथ ने आदिवासी विकास परिषद के कार्यक्रम में विधायक पांचीलाल मेड़ा का नाम लेकर चुटकी ली। उन्होंने कहा कि आदिवासी वर्ग आजादी के बाद साइकिल चलाना सीख गया, मोटर साइकिल भी चलाना सीख गया, लेकिन मुंह चलाना नहीं सीखा। सीएम हसते हुए बोले- क्यों, पांचीलालजी।

भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह का शुक्रवार को एक वीडियो वायरल हुआ। इसमें वे सीहोर के चिंतामन गणेश मंदिर के बाहर भिखारियों को 20-20 रुपए देते दिख रहे हैं। भाजपा जिलाध्यक्ष सीताराम यादव ने इसे आचार संहिता का उल्लंघन बताते हुए चुनाव आयोग से शिकायत की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here