शिक्षक देश का सबसे बड़ा चौकीदार – मोदी

मोदी ने दिल्ली के तालकटोरा मैदान से ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान के तहत समर्थकों को संबोधित किया

ग्वालियर की शिक्षिका शकुंतला सिंह परिहार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भ्रष्टाचार रोकने पर पूछा सवाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मैं भी चौकीदार’ अभियान के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए समर्थकों को संबोधित किया। मध्य प्रदेश में भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और इंदौर सहित कई शहरों में कार्यक्रम के सीधे प्रसारण की व्यवस्था की गई थी। ग्वालियर की शिक्षिका शकुंतला सिंह परिहार ने प्रधानमत्री से  भ्रष्टाचार रोकने पर पूछा सवाल किया। ग्वालियर में इस कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी मौजूद थे।

प्रधानमंत्री ने शकुंतला सिंह के प्रश्न का जवाब देते हुए कहा कि शिक्षक देश का सबसे बड़ा चौकीदार होता है। उन्होंने कहा, ”2014 चुनाव के दौरान मैंने लोगों से कहा था कि आप दिल्ली का जो दायित्व मुझे दे रहे हैं मतलब आप एक चौकीदार बैठा रहे हैं। देश का सामान्य आदमी टैक्स देता है। अलग-अलग प्रकार से धनराशि देता है और इस पर देश के गरीबों का हक होता है। सरकार में आते ही हमने इस पर काम शुरू किया। काम शुरू होते ही लोगों में घबड़ाहट शुरू हो गई। जिन्होंने देश को लूटा उन्हें जेल जाना ही पड़ेगा। इसकी शुरुआत 2014 से हुई, मैं उन्हें जेल के दरवाजे तक ले गया। लोग जेल के दरवाजे तक पहुंच कई कारणों से बाहर आ गए। 2019 से अब वो बच नहीं पाएंगे।

मोदी ने कहा कि कुछ भ्रष्टाचार करने के बाद जेल जाने के डर से देश छोड़कर भाग गए हैं। उनके पीछे भी हम लगे हैं। वो लोग विदेश में जाकर वहां की कोर्ट में जाकर कह रहे हैं कि भारत की जेलें रहने लायक नहीं है। हम वहां कह रहे हैं कि जिन जेलों में अंग्रेजों ने महात्मा गांधी को रखा वे जेलें रहने लायक कैसे नहीं हो सकतीं।

मोदी ने कहा कि पहले खबर आती थी कि फलां अफसर के यहां छापा पड़ा बिस्तर के नीचे से नोटों के बंडल निकले। अब इस तरह की खबरें आना बंद हो गई हैं। लूटने वाले बचने ही नहीं चाहिए ये मैं वादा करता हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here