उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाना जरूरी : उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी

भोपाल !  कमलनाथ सरकार उच्च शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार लाना चाहती है. इसलिए वो कॉलेजों में नया प्रयोग करने जा रही है. स्कूलों की तरह अब कॉलेजों में भी पेरेंट्स टीचर्स मीट की जाएगी. एमपी का एजुकेशन हब कहे जाने वाले इंदौर के होलकर कॉलेज से 23 फरवरी से इसकी शुरूआत हो रही है. उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी का कहना है कॉलेजों में पैरेंट्स और प्रोफेसर्स के बीच संवाद कराने और स्टूडेंट्स भी कॉलेज एजुकेशन को गंभीरता से लें इसलिए अब हर कॉलेज में पीटीएम की जाएगी.

उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी ने अतिथि विद्वानों से अपील की है कि वो अपना आंदोलन ख़त्म करें. उनसे किया हर वादा पूरा किया जाएगा.पटवारी ने कहा पिछली सरकार ने पीएससी के माध्यम से प्रोफेसरों की भर्ती नहीं की. इसलिए प्रोफेसरों के पद खाली पड़े हैं. 5 हजार से ज्यादा अतिथि विद्वान काम कर रहे हैं. इनके हितों का ख्याल रखा जाएगा. तीस साल से उच्च शिक्षा का मापदंड नही बदला है इसलिए शिक्षा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश की स्थिति अच्छी नहीं है. जबकि साउथ के राज्य एमपी से कई गुना आगे निकल गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here